पॉडकास्ट क्या है? पॉडकास्टिंग कैसे करें? Podcast Kya Hai

आज के समय में Podcast का प्रचलन भारत में तेजी से बढ़ा है। तो क्या आप भी पॉडकास्ट शुरू करना चाहेंगे। पॉडकास्ट क्या है? ये कैसे काम करता है? इस पोस्ट में आपको इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।

इंटरनेट पर कंटेंट टेक्स्ट, इमेज और वीडियो के रूप में उपलब्ध हैं। इसी क्रम में अब कंटेंट ऑडियो में भी उपलब्ध हो रहे हैं। ऑडियो के फॉर्म में हम बचपन से रेडियो पर गाने सुनते आये हैं। बाद में कई तरह के म्यूजिक एप्प या वेबसाइट भी गाने सुनने और उसको डाउनलोड करने की सुविधा देने लगे।

आप अगर इंटरनेट या सोशल मीडिया पर कंटेंट बनाते हैं तो आपको पॉडकास्ट के बारे में जरूर सोचना चाहिए।

तो आइये शुरू करते हैं। आपको बताते हैं पॉडकास्ट कैसे बनायें ?

पॉडकास्ट क्या है?

पॉडकास्ट एक ऑडियो प्रोग्राम है। यह टॉक रेडियो शो की तरह होता है। पॉडकास्ट में कंटेंट ऑडियो के फॉर्म में होता है। जैसे की आप न्यूज़ पेपर में कोई आर्टिकल पढ़ते हैं। ठीक उसी तरह रेडियो पर समाचार सुनते हैं। आप पॉडकास्ट को स्मार्टफोन पर सब्सक्राइब करके जब चाहे सुन सकते हैं।।

विस्तार से बताएं तो, पॉडकास्ट ऑडियो एपिसोड की एक सीरीज है। जो किसी विशेष टॉपिक्स या विषय पर केंद्रित होती है। जैसे हेल्थ, एजुकेशन या स्टार्टअप। आप अपने फोन पर एक ऐप के साथ शो की सदस्यता ले सकते हैं। इसके बाद आप जब भी आप अपने हेडफ़ोन पर, कार में या स्पीकर्स के माध्यम से एपिसोड सुन सकते हैं।

अब हो सकता है आपके मन में ये विचार आया हो, पॉडकास्ट और पॉडकास्ट एपिसोड में क्या अंतर है ? तो चलिए इसको समझते हैं।

Podcast और Podcast episode में क्या अंतर है?

ये शब्द आपको भ्रमित करने वाले लग रहे होंगे। चलिए इसको समझते हैं। पॉडकास्ट एपिसोड की एक सीरीज है। इसमें एक टॉपिक पर कई एपिसोड हो सकते हैं।

इसको आसान शब्दों में ऐसे समझिये। टीवी पर आप कई तरह के शो देखते होंगे। यहाँ उदाहण के लिए मैं एक पॉपुलर शो “बिग बॉस” का उदाहरण लूंगा। इसमें आपने देखा होगा की एक बिग बॉस के शो के कई सीजन हैं। जिसमें कई एपिसोड होते हैं। जैसे सीजन 5 में 15 एपिसोड।

ठीक इसी तरह पॉडकास्ट में भी एक सीजन में या शो में आप कई एपिसोड जोड़ सकते हैं।

पॉडकास्ट और एक ऑडियो फ़ाइल के बीच अंतर क्या है?

कई लोग भ्रमित हो जाते हैं, एक साधारण ऑडियो फ़ाइल और पॉडकास्ट के बीच क्या अंतर है।

सबसे सरल व्याख्या यह है कि एक ऑडियो फ़ाइल और पॉडकास्ट एपिसोड तकनीकी रूप से समान हैं। यदि आपने पॉडकास्ट साइट से पॉडकास्ट एपिसोड डाउनलोड किया है, तो आप केवल एक ऑडियो फ़ाइल डाउनलोड कर रहे हैं। अंतर तब आता है जब आप ऑडियो फ़ाइलों की उस सीरीज के लिए सदस्यता का विकल्प जोड़ते हैं।

यदि आप लोगों को ऑडियो रिकॉर्डिंग की अपनी सीरीज की सदस्यता देने के लिए पॉडकास्ट होस्टिंग सेवा का उपयोग करते हैं। तो आपने साधारण ऑडियो फाइलों से पूरी तरह से काम करने वाले पॉडकास्ट में बदल दिया है। पॉडकास्ट केवल ऑडियो फ़ाइलें हैं, लेकिन सदस्यता के साथ, अब आप उन्हें पॉडकास्ट भी कह सकते हैं।

यदि आप एक अच्छी पॉडकास्ट होस्टिंग कंपनी का उपयोग करते हैं। तो आपके पॉडकास्ट के लिए सब्सक्राइब का ऑप्शन मिल जाता है। लेकिन आप इसके बारे में थोड़ा जानना चाहते हैं कि यह कैसे काम करता है।

पॉडकास्ट कैसे काम करता है?

यह RSS नामक एक तकनीक के माध्यम से चलाया जाता है। RSS सिर्फ एक कंप्यूटर भाषा है जो आपके पॉडकास्टिंग सॉफ्टवेयर को पॉडकास्टिंग वेबसाइट से जोड़ने की सुविधा देती है।

यदि आप पॉडकास्टिंग सॉफ्टवेयर जैसे कि KUKU FM, Anchor आदि का प्रयोग करते हैं। तो ये पॉडकास्ट होस्टिंग प्लेटफार्म एक पॉडकास्टिंग वेबसाइट का वेब एड्रेस देते हैं। जो आरएसएस फ़ीड को आसानी से पढ़ सकेगा। साथ ही यह उस पॉडकास्ट के सभी एपिसोड को डाउनलोड करने में सक्षम होगा।

इसलिए, जब आप Apple पॉडकास्ट, Google पॉडकास्ट, Spotify, या किसी अन्य अच्छे पॉडकास्ट सुनने वाले ऐप का उपयोग करते हैं। तो यह आपके सभी पॉडकास्ट के माध्यम से आपके सभी फॉलोवर्स का ट्रैक रखेगा। RSS फ़ीड, स्वचालित रूप से नए एपिसोड को उपलब्ध करेंगे।

याद रखने वाली बड़ी बात यह है कि पॉडकास्ट बस एक ऑडियो फाइल है।

लेकिन, यदि आप उस ऑडियो फ़ाइल को एक वेबसाइट पर अपलोड करते हैं, और उसे RSS फ़ीड के माध्यम से सदस्यता लेने की अनुमति देते हैं तो यह एक पॉडकास्ट है।

पॉडकास्ट किस टॉपिक पर बनाएं

अधिकांश पॉडकास्ट एक विशेष विषय के आसपास थीम पर आधारित होंगे। पॉडकास्टर उसी विषय पर बात करेंगे।

पॉडकास्ट में किसी प्रोडक्ट की जानकारी, मोटिवेशनल बातें, खुशहाल जीवन जीने के लिए क्या करें जैसे टॉपिक भी हो सकते हैं।

पॉडकास्ट के प्रत्येक एपिसोड में उस विषय के भीतर कुछ विशिष्ट बात की जाएगी – जैसे कोई कंपनी अपने प्रोडक्ट या सर्विसेज की जानकारी दे सकती है या फाइनेंस से जुडी जानकारी हो सकती है।

प्रत्येक एपिसोड आम तौर पर एक या दो होस्ट द्वारा चलाया जाता है। जो उस विषय के बारे में बात करते हैं। पॉडकास्ट शो में अक्सर बाहर के मेहमानों को योगदान करने, या इंटरव्यू करने के लिए आमंत्रित करते हैं।

पॉडकास्ट पर मेरा अनुभव

मैं एक लोकप्रिय पॉडकास्ट होस्ट करता हूँ। जिसका नाम Nitish Verma Talk Show है। लगभग सभी ऑडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म पर आपको मेरे पॉडकास्ट सुनने को मिल जाएंगे। मैं खुद ही अपना पॉडकास्ट होस्ट करता हूँ। यहाँ आपको ब्लॉग्गिंग, डिजिटल मार्केटिंग और टेक्नोलॉजी से जुडी जानकारी प्रदान करता हूँ।

पॉडकास्ट वास्तव में सरल हैं। जैसे बस कुछ दोस्तों से बात कर रहे हैं। लेकिन कुछ वास्तव में प्रोफेशन पोडकास्टर्स या पॉडकास्ट शो हैं, जिसमें थीम,म्यूजिक,साउंड इफ़ेक्ट, प्रोफेशनल एडिटिंग और बहुत कुछ शामिल हैं।

अधिकतर प्रोफेशनल पॉडकास्ट सुनने में अच्छे लगते हैं, लेकिन वे प्रोडक्शन करने के लिए बहुत अधिक समय और पैसा लेते हैं।

दूसरी ओर, मेरे जैसे शौकिया लोग हैं जो साधारण रूप से शुरुआत कर सकते हैं। आप हर एक हफ्ते में एक या दो पॉडकास्ट अपलोड करके आगे बढ़ सकते हैं।

ये जरुरी नहीं है की आप बहुत प्रोफेशनल होंगे तभी लोग आपको सुनेंगे। पॉडकास्ट को सुनने वाले हर तरह के लोग हैं। ये इसपर निर्भर करता है आप किस टॉपिक पर अपने अनुभव को शेयर करते हैं।

Podcast Example

podcast example को समझने के लिए आप मेरा एक पॉडकास्ट एपिसोड यहाँ देख सकते हैं।

अब आप समझ गए होंगे की पॉडकास्ट क्या है? पॉडकास्टिंग कैसे करें? आप मेरे पॉडकास्ट शो को सब्सक्राइब करके सुन सकते हैं।

पॉडकास्ट से जुड़ी किसी भी अन्य जानकारी के लिए कमेंट में बताएं।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.